Pages

Sunday, 5 May 2013

संजो लूंगा इनको अपने दिल मे मोतियों की मानिंद

संजो लूंगा इनको अपने दिल मे मोतियों  की मानिंद
कि अब अपने खुशी के आंसू मेरी हथेली में गिरने दो
मुकेश इलाहाबादी ----------------------------------------