Pages

Sunday, 5 May 2013

आज हमने खबर सूनी


 


आज हमने खबर सूनी है
बूते संगमरमर को भी
किसी से मुहब्बत हुई है
मुकेश इलाहाबादी ----