Pages

Thursday, 23 June 2016

शहर भर मे अपना चर्चा है तो हुअा करे

शहर भर मे अपना चर्चा है तो हुअा करे
ज़माना बदनाम करता है तो किया करे
मै तो अपने अाशिक की इबादत करूंगा
कोई मुझे काफ़िर कहता है तो कहा करे
मुकेश इलाहाबादी ------------------------