Pages

Monday, 29 April 2013

आइना खुद ब खुद क्यूँ टूटा उससे टकरा कर

आइना  खुद ब खुद क्यूँ टूटा उससे टकरा कर
खुश है पत्थर टूटने का दोष मढ़कर आईने पर
मुकेश इल्हाबाबदी --------------------------------