Pages

Sunday, 31 August 2014

कोई झील नहीं, कुंआ नहीं, दरिया नहीं

कोई झील नहीं, कुंआ नहीं, दरिया नहीं
मेरी प्यास बुझे ऐसा कोई ज़रिया नहीं
मुकेश इलाहाबादी ------------------------