Pages

Thursday, 3 August 2017

मुहब्बत को समझने के लिए दोनों को जानना जरूरी है

देह का अपना क  क  ह  रा  है
दिल  की अपनी ऐ बी सी डी है

(मुहब्बत को समझने के लिए दोनों को जानना जरूरी है )

मुकेश इलाहाबादी --------------------------------------