Pages

Tuesday, 26 August 2014

लोग बेवज़ह तुमको गुलाब नहीं कहते

लोग बेवज़ह तुमको गुलाब नहीं कहते
तुम्हारे ही दम पे, ये चमन औ खुशबू है
मुकेश इलाहाबादी ---------------------
--